विश्व प्रसिद्द व्यक्तित्व- अल्बर्ट आइन्स्टीन

0
118
Great personality

अल्बर्ट आइन्स्टीन

जन्म : 14 मार्च, 1879 | मृत्यु: 18 अप्रेल, 1955

albert-einsteinमानव इतिहास के जाने-माने बुद्धिजीवी अल्बर्ट आइन्स्टीन 20 वी सदी के प्रारंभिक बीस वर्षोँ तक विश्व के विज्ञान जगत पर छाये रहे। अपनी खोजो के आधार पर उन्होंने अंतरीक्ष, समय और गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत दिये। अल्बर्ट आइन्स्टीन का जन्म उल्मा, जर्मनी में 14 मार्च, 1879 को हुआ। स्विटजरलैंड में उन्होंने अपनी शिक्षा प्रारम्भ की और ज्यूरिक की पालीटेक्नीकल अकादमी में 4 साल बिताये। सन् 1990 में उन्होंने स्नातक की उपाधि ग्रहण कर स्विटजरलैंड की नागरिकता स्वीकार कर ली| सन् 1905 में आइन्स्टीन ने ज्यूरिक विश्वविद्यालय से पीएचडी की उपाधि प्राप्त की।

इसी वर्ष उन्हीने वैज्ञानिक शोधों के आधार पर लेख प्रकशित कराये और प्रसिद्द सापेक्षता के सिद्धांत (Theories of Relativity) दिये। अपने इस मत के कारण उनका नाम सम्पूर्ण यूरोप के भौतिकी वैज्ञानिकों में फ़ैल गया। आइन्स्टीन अब पहले स्विटजरलैंड, फिर प्राग के जर्मनी विश्वविद्यालय और सन् 1912 में ज्यूरिक के पालीटेक्नीक में प्रोफेसर हो गये। सन् 1914 में उन्होंने बर्लिन स्थित प्रुसियन अकादमी ऑफ साइंस में नियुक्ति ले ली।

आइन्स्टीन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति नवंबर, 1919 में मिली जबकि रोयल्टी सोसाइटी ऑफ़ लन्दन ने उनके सिद्दांतो की मान्यता प्रधान की। इसके बाद सन् 1921 तक सरे यूरोप में घुम-घूम कर उन्होंने अपने विचार बुद्धिजीवियो के सामने रखे। अगले तीन वर्ष उन्होंने विश्व भ्रमण किया और अपने सिद्दांतो से लोगो को अवगत कराया। सन् 1921 में आइन्स्टीन को भौतिकी के क्षेत्र ने अद्वितीय कार्य करने के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। सन् 1933 में आइन्स्टीन ने जर्मनी की नागरिकता छोड़ दी। वे अब प्रिंसटन (अमरीका) में रहने लगे। 18 अप्रेल, 1955 को उनकी मृत्यु प्रिंसटन अस्पताल में हुई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here